On-Page SEO क्या है ? पूरी जानकारी

0
Loading...

On page seo Kya  hai- ब्लॉग या Website के लिए SEO बहूत ही महत्वपूर्ण होता है जिसके मदत से आप अपने बॉग को अच्छी तरीके से optimize करके search engine मे दिखा सकते है। जितना अच्छा आप अपने ब्लॉग को SEO optimized करेंगे उतना ही उसका chances रहेगा search engine मे rank करने का।

आज के इस लेख की मदत से हम आपको on-page seo के बारे मे complete guide बताएंगे की कैसे आप अपने blogpost का on-page seo kre, apne content ko kaise optimize kre और lots of more। तो चलिए शुरू करते है।

Contents hide

On-Page SEO क्या है?

On-page SEO एक प्रकार का seoहै जिसे On-Site SEO के नाम  से भी जाना जाता है। यह Web Pages के Contents को search engines और usersके लिए optimize करता है। जिसके द्वारा webpages मे समयतः Tittle, Tags, Meta Descriptions, internal links आदि को optimizeकिया जाता है।

जितना जादा आप अपने contents को On-page SEO से optimizeकरेंगे उतना ही जादा आपके ब्लॉग का engagement और user interaction बढ़ेगा।

यह Off-page SEO से पूरी तरह से अलग होता है और आपके ब्लॉग पे उससे different प्रकार से काम करता है। जो की आपके ब्लॉग के signal को optimize करता है जैसे आपके ब्लॉग का Backlinks.

On-Page SEO क्या महत्वपूर्ण है?

आपके ब्लॉग के लिए On-page SEO बहूत ही महत्वपूर्ण है क्योंकी इसी से आपके blogpostको search engine मे rankingके chances boost होते है। On-page SEO आपके contentको पूरी तरीके से optimize करने मे बहूत ही जादा मदत करता है और जिसके कारण आपको ब्लॉगपोस्ट search results मे जादा rank करता है।

Google Ranking Factor के अनुसार आपको ब्लॉग या ब्लॉगपोस्ट जितना जादा optimizedहोगा उतना ही जादा आपके ब्लॉग पोस्ट या webpages की रैंकिंग उतनी ही जादा बढ़ेगी ।

अपने ब्लॉग या ब्लॉग पोस्ट को rank करने के लिए आपको अपने contentsको fully optimizedकरना होगा। जैसे :-

  • User Experiences
  • Bounce Rates and Dwell Times
  • Page Loading Speed
  • CTR

On-Page SEO कैसे करे?

चलिए अब हम आपको बताते है की आप अपने ब्लॉग के लिए On-page SEO कैसे करे जिससे आपके ब्लॉगपोस्ट आसानी से rank कर सके।

अपने Content को optimize करे

Article के पहले 100 words मे अपना Targeted Keyword use करे

यह एक On-page SEO School tactic है जो आपके blogpost को बहूत ही अलग बनाता है और बहूत ही महत्वपूर्ण है।

आपको अपने ब्लॉगपोस्ट के पहले 100-150 के अंदर अपना Main-Keyword का उपयोग करना है। इससे Google को आपके ब्लॉग पोस्ट के सुरुआती contents मे ही यह पता चल जाएगा की आपका पोस्ट किस टॉपिक पे है और उसे crawl करने मे आसानी होगी। ऐसा करने से आपके ब्लॉगपोस्ट से कुछ तो sense पता ही चलेगा।

यह method Google को बहूत ही मदत करेगा की आपका पूरा  ब्लॉगपोस्ट किस बारे मे है।

अपने ब्लॉग पोस्ट के tittle को H1 Tag मे उपयोग करे

H1 Tag mini tittle tag की तरह है । Googleने भी यह पूरी तरीके से clear कर दिया है की H1 Tag का इटमल करने से पूरी तरीके से clear हो जाता है की आपके page structure क्या है।

बहूत से ऐसे platforms है जैसे WordPress आदि ये सब automatically  आपके ब्लॉगपोस्ट या pages पर H1 Tagका इस्तेमाल कर देता है। लेकिन कुछ मे नहीं होता है उसके लिए आपको अपने site’s के codeको H1 tag मे convert करना होगा।  और आपका keyword उस H1tag के inside होगा।

अपने ब्लॉग पोस्ट के Subheadings को H2 Tagमे use करे

ब्लॉगपोस्ट मे main keyword का subheading at least एक होना बहूत ही आवश्यक है। और वह H2tag मे होना चाहिए।

Keyword Frequency

आपके ब्लॉगपोस्ट मे कितनी बार आपको main keyword उपयोग मे आया है उसी को keyword frequency कहते है।

आप अपने ब्लॉग पोस्ट मे कितनी बार main keyword को उपयोग कीये है यह बहूत ही matter करता है। Google के अनुसार यदि आप अपने blogpost मे mainkeyword को केवल एक बार use करते है तो इससे आपको post google मे केवल एक ही बार appear हो सकता है और अगर वही- वही keyword आपके ब्लॉगपोस्ट मे एक से अधिक बार उपयोग किया जाए तो इससे आपका ब्लॉगपोस्ट का गूगल पर एक से अधिक बार appear हो सकता है।

यदि आप अपने ब्लॉगपोस्ट मे एक से अधिक बार अपने focus keyword को use करते है तो इससे आपके ब्लॉग को google को समझने मे आसानी होगी की आपका post really मे किस topic के बारे मे है।

पर अब सवाल यह है की कितनी बार focus keyword को 2,000 words के article मे उपयोग किया जाए। यह आपके topic के ऊपर निर्भर करता है पर मै आपको recommend करूंगा की आप कम से कम 5 times use करे ।

Use External (Outbound) Links

यदि आप अपने ब्लॉग पोस्ट मे अपने blopgpost से related posts के links का उपयोग करते है तो इससे google को आपके blogpost को समझने मे बहूत ही आसानी होगी।

अपने ब्लॉग के URL optimize करे

आपके ब्लॉगपोस्ट का url On-page SEO का एक महत्वपूर्ण भाग है। जी हा Google ने अभी हालही से weird version url use करना सुरू किया है। इसलिए मै आपको बताना चाहता हूँ की आपके ब्लॉग का URL पहले से बहूत ही महत्वपूर्ण हो गया है।

कैसे SEO-Friendly URL Create करे

  1. अपने URL short बनाए
  2. एक Keyword का उपयोग सभी URLs मे करे

अपने ब्लॉग के Tittle और Description को optimize करे

इस topic मे आप सीखेंगे की SEOके लिए अपने Contents के Tittle और MetaDescription को कैसे Optimize करे।

Google के अनुसार , आपके ब्लॉगपोस्ट के Tittle और Meta Description दोनों ही ranking मे बहूत ही matter करते है।

So, यदि आप SEO-Friendly Tittle और Meta Description लिखना चाहते है तो यह आपके लिए है।

Front Load Your Tittle Tag

मेरे विचार से आपका Tittle Tag बहोत ही important है यह मै इसलिए ख रहा हूँ क्यों की यह search engine को आपके blogpost के बारे मे high-level का overview देता है। जितना जादा आप अपने Tittle को Optimize करेंगे उतना ही जादा आपके ब्लॉगपोस्ट के ranking के chance भी बढ़ेगा।

Tittle Tag Modifiers का उपयोग करे

अपने ब्लॉगपोस्ट के Tittle मे Tag modifiers का जरूर उपयोग करे जैसे Best, Guide आदि।

Unique Keyword-Rich Meta Description का उपयोग करे

अभी हाल ही मे Google Recommend किया है की आप अपने ब्लॉगपोस्ट के description स्वंयम से लिखे । जो आपके organic CTR को boost करने मे मदत करेगा।  आपको अपने blogpost के description मे अपना focus Keyword को भी उपयोग करना है।

SEO Content लिखे

अब समय है content लिखना और उसे अपने ब्लॉगपोस्ट पर publish करना जो आपके ब्लॉग को rank करे।

यदि आप अपने contents को rank करना चाहते है तो आपको निमनलिखित बातों को ध्यान देना होगा।

  • Unique (सबसे अलग)
  • Super Valuable
  • Optimized For Search Intent

और मै आपको इस टॉपिक मे इन्ही के बारे मे आपको पूरा Guide करने वाला हूँ की आप अपने contents को कैसे optimize करे।

Unique Contents

मै यह आपसे unique contents की क्यों बात कर रहा हूँ याद रहे मै आपसे Dublicate contents की नहीं बात कर रहा हूँ।

मै आपसे यह कहना चाहता हूँ की आप अपने ब्लॉग के लिए ऐसा content लिखिए और publish कीजिए जो की अपभी तक कोई दूसरा  न publish किया हो ।

यदि दूसरे दुशरे सबदों मे कहे तो ऐसे content जो दूसरों से अलग हूँ। अब वह इस प्रकार से भी नया हो सकता है जैसे :-

  • नया Tips या Strategy
  • Better List of curated resources
  • नय Case Study
  • अच्छा Design या Ux
  • Detailed Step by step process

Valuable Contents

केवल और केवल अपने blogpost को unique  बनाने से कुछ नहीं होगा इसके लिए आपको और भी strategy अपने ब्लॉग के लिए करना होगा जैसे Valueable contents। आपको पता है की किसी भी topic के बारे मे Daily minimum millions of blogpost  होते है फिर आप यदि अपने blogpost  के जरिए value नहीं देंगे तो आप कैसे भरोसा कर सकते है की आपका ही blogpost rank करेगा।

इसलिए आपको Rank1 करने के लिए Super valueable contents provide करना है। यदि आप अपने blogpost मे super valuable contents देते है तो इससे Google का ही नहीं users का भी आपके ब्लॉग पर खूब trust build होगा इसलिए मै आपसे ख रहा हूँ की आपको अपने बलोपोस्ट के मद्यम से खूब value देना है और इसका result unbelievable होगा।

चलिए मै आपको कुछ ऐसे Tips देता हूँ जिनकी मदत से आप अपने blogpost को Super Valuable बना सकते है।

  • Add Details: आप अपने ब्लॉग पोस्ट को जीतने विस्तार मे बताएंगे या समझाएंगे उतना ही जादा आपके ब्लॉग को लोग पसंद करेंगे। अब अपने ब्लॉग को detail मे करने के लिए Images, Screenshot, Chart और step by step easy करके बात सकते है।
  • Crisp Writing: जितना जादा और strong copywriting करेंगे उतना ही जादा आपका ब्लॉगपोस्ट engagingहोगा ।

क्या आपको पता है की SEO Checklist पोस्ट कैसे लिखा जाता है मै आपको बताता हूँ SEO Checklist उस पोस्ट को कहते है जो खुद के Experiencesऔर खुद के Checklist  से होता है।

Search Intent को satisfies करने वाला Content लिखे

Unique और Valuable contents आपको search engine पे rank कर देंगे पर 1 पे rank करने से जादा Important 1st पे टिकना है या तब possible होगा जब आपके blogpost search engine को satisfy करेगा।

यदि हम इसके दूसरे सबदों मे कहे तो आपका ब्लॉग पोस्ट एक दम वैसे हो जैसा Google चाहता है। वरना आपका ब्लॉगपोस्ट 3 or 4 page पर रह जाएगा। यह गलती बहूट से लोग करते है सायद कही आप भी यह गलती न करबैठे हो। इसीलिए आपको इन सभी को पूरी तरह से अपने ब्लॉगपोस्ट पर apply करना है।

Loading...

CTR के लिए Optimize करे

आपके बब्लॉगपोस्ट के लिए आपके Organic Click Through Rate बहूट ही जादा महत्वपूर्ण है। इसके दो महत्वपूर्ण कारण है :

  1. CTR Google Ranking Factor है।
  2. जतन आपके ब्लॉगपोस्ट का CTR बढ़ेगा उतना ही जादा chances होंगे आपके ब्लॉग पर traffic आने के।

इस topic मे हम आपको बताएंगे की आप अपने ब्लॉग का Organically CTR कैसे improve कर सकते है।

Question Tittle Tags का उपयोग करे

Tittle मे question tittle का उपयोग करने से आपके ब्लॉग पर CTR बदता है और यद आप ऐसे करते है तो आप अपने ब्लॉग के CTR को आसानी से बड़ा सकते है। यह भी एक ranking factor है।

FAQ Schema या Review Schema का उपयोग करे  

Schema आपके ब्लॉग के SEO को directly नहीं help करेगा। लेकिन कुछ प्रकार के Schema आपके ब्लॉग के लिए बहूट Helpful होंगे जैसे RichSnippets आदि।

Rich Snippets जादा clicks लाने म मदत करता है। Rich Snippets के दो बहूत ही अच्छे schema है। Review Schema

और FAQ Schema

आप अपने ब्लॉग के schema को The Structured Data Testing Tool से चेक कर सकते है की आपके ब्लॉग का Schema सही setup हुआ है या नहीं।

Tittle मे emotions tag का उपयोग करे

आप अपने ब्लॉगपोस्ट मे यदि emotion tittle tag का उपयोग करते है तो आप उस tittle के जरिए 7% clicked पा सकते है VS बिना emotion tittle tag के। जिसे amateur पर Power Words कहते है।

लोग उन post के tittle से जादा attracted होते है जिनमे emotional tag का उपयोग किया गया रहता है।

इसलिए मै आपको recommend करूंगा की आप अपने ब्लॉगपोस्ट के tittles मे emotionalटैग का जरूर उपयोग करे। लेकिन याद रहे ऐसा emotion टैग मत उपयोग करिएगा जिससे की आपके ब्लॉग पर गलत effect पड़े ।

Current Year को Tittleऔर Description मे add करे

एक अध्ययन के अनुसार यह माना गया है की Blogपोस्ट के Tittle और Description मे current year का उपयोग करने से आपके ब्लॉग का रैंकिंग बढ़ जाता है।

जैसे यदि कोई “best smartphone” search किया तो वह current smartphones को ही तो search करेगा। और यदि आप Tittle और Description मे current  year का उपयोग करेंगे तो इससे लगेगा की आपका content up-to-date है।

On-Page UX Signal

इस topic मे मै आपको बताऊँगा की कैसे आप अपने contents को UX Signal (User Experience) से optimize कर सकते है? या फिर कैसे Google आपके contents को interact करता है।

तो चलिए जानते है की google आपके contents से कैसे interact करता है?

अपने content का summary शुरुआत मे रखे

मैंने बहूत से ब्लॉगगर्स को देखा है की वे अपने blogpost के content के शुरुआत मे images का उपयोग करते है पर क्या आपका पता है की Google के द्वारा जो भी users आपके ब्लॉग पर आते है उन्हे fast answer चाहिए होता है और ऐसे मै यदि आप अपने content मे पहले images का उपयोग करेंगे तो इससे users distract हो सकते है।

यह सही है की आप अपने blogpost के सुरुआत मे imagesरखते है लेकिन यदि आप अपने contents को नीचे कर देंगे तो है तो बहूत ही bad है।

Advanced On-Page SEO Tips

इस part मे मै आपको On-page SEO के बारे मे advanced factors के बारे मे बताऊँगा जो आपके ब्लॉगपोस्ट को ranking मे और भी boost कर सकता है। लेकिन यह तब आपके लिए लाभदायक होगा जब आप ऊपर बताए गए Guides को पूरी तरह से अआपने blogpost पर optimized कर लेते है।

या आप इसे यू ख सकते है की यह On-page SEOका next level है। तो फिर चलिए शुरू करते है।

Original Images का उपयोग करे

क्या आप अपने ब्लॉग मे stock images का उपयोग करते है?

यदि आप अपने ब्लॉग मे stock images का उपयोग करते है तो इससे आपके ब्लॉग के SEO पर बहूत जादा effect पढ़ सकता है।

यदि आप अपने ब्लॉग मे stock images use करते है तो आपका site outranked हो सकता है पर वही यदि आप अपने ब्लॉग मे unique images का उपयोग करते है तो आपका site rank होगा ।

Internal Linking करे

ब्लॉग मे internal Linking बहूतही important होता है। आपको अपने blog को तो high authoritative pages से linkingकरना चाहिए इससे आपके ब्लॉग को boost मिलेगी।

Page के Speed को boost करे

Google ने यह clearly बताया है की Page loading speed SEO का एक महत्वपूर्ण signal है और वे हाल ही मे ये भी बता दिए है की page loading speed बहूत ही जादा important है।

एक research के माध्यम से यह proved हो गया है की यदि आप अपने ब्लॉग को faster hosting पर host करते है तो इससे आपके pages का speed boost हो जाएगा

Images को Optimize करे

एक image एक हजार words के बराबर है या सकते है यह उससे भी कही valuable है।  ब्लॉग पोस्ट मे image का use करने से यह आपके पोस्ट को visually appealing बनाता है। किन्तु यह तभी सही होगा जब अपने पोस्ट से relevant इमेज लगाएंगे और उससे सही मैसेज देंगे।

इसलिए आपको वही इमेज उसे करना है जो आपके ब्लॉग पोस्ट से relevant हो। आपको पता होगा की हम सब sidebar मे featured पोस्ट या फिर popular post का उपयोग करते है। पर क्या आपको पता है की यदि उसमे आप attractive और valueable image लगते है तो केवल वह आपके site का CTR बड़ाएगा ही और साथ ही वह आपके site का bounce rate भी घटाएगा।

Images Optimize करने के लिए सबसे पहले आपको अपने image का ALT Text लिखना है।

इसके बाद आपको अपने image का Title लिखना है। उसके बाद फिर Description आदि लिखना है। यदि आप इस process को सही से follow करते है then आप आसानी से अपने images को optimize कर सकते है।

अपने content को Featured Snippet मे Rank कराए

यदि आप Featured Snippets मे rankकरते है तो यह बहूत ही लाभदायक हूगा आपके ब्लॉग के लिए लेकी आपका पोस्ट तभी featured snippet मे rank होगा जा आपका postal ready google के first page प रैंक करना चाहिए।

पर यहा सवाल आता है की यह कैसे हो?

  1. अपने ब्लॉग का On-Site SEO improve करे।
  2. अपने ब्लॉगपोस्ट मे LSI Keywords का उपयोग करे।
  3. Technical SEO को Monitor करे।
  4. अपने contents को search intent से match करे।
  5. अपने ब्लॉग का Bounce Rate Reduce करे ।

आपको कैसा लगा?

मै उम्मीद करता हूं कि इस पोस्ट के माध्यम से अब आपको OnPage SEO Kya hai?  इसके बारे मे आपको पूरी जानकारी जरूर मिल गया होगी।

मेरा आपसे एक निवेदन है इस पोस्ट को अपने दोस्त और अपने आस पास के  सभी लोगो तक और social media ( Facebook, WhatsApp, Pinterest आदि) पर  इस पोस्ट को जरूर पहुचाए। जिससे हमारे बीच जागरूकता होगी। और इससे सभी को हिंदी में  जानकारी  सरलता और आसानी से मिलेगी ।

आपसे मेरा गुंजारिस है की आपको यह information कैसा लगा, आपके लिए यह कितना लाभदायक है और इसमे क्या त्रुटि है उसे आप हमे comment करके जरूर बताए। ताकि मै  पोस्ट मे उसे सुधार कर के आपके सामने अच्छे से प्रस्तुत करू जिससे आपको समझने मे और भी आसनी होगी।

धन्यवाद !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 − 1 =